आईपीसी धारा 332 क्या है | IPC Section 332 in Hindi – विवरण, सजा का प्रावधान

आईपीसी धारा 332 क्या है भारतीय दंड संहिता की जितनी भी महत्वपूर्ण धाराएं हैं उनके बारे में हमारी टीम एक – एक करके आपके लिए सभी धाराओं पर पूरे जोर शोर से काम कर रही है जिसका लाभ आपको मिल रहा होगा | इसी क्रम में आज इस पेज पर “लोक सेवक को अपने कर्तव्य … Read more

आईपीसी धारा 338 क्या है | IPC Section 338 in Hindi – विवरण, सजा का प्रावधान

आईपीसी धारा 338 क्या है भारतीय दंड संहिता में इस बात को कहाँ परिभाषित किया गया है कि अगर किसी व्यक्ति द्वारा ऐसा कार्य कर दिया जाये जिससे दूसरे व्यक्ति को गंभीर चोट या घोर उपहति होने पर उसका जीवन खतरे में आ जाये या वैयक्तिक क्षेम संकटापन्न हो जाए | इस बात को भारतीय … Read more

आईपीसी धारा 336 क्या है | IPC Section 336 in Hindi – विवरण, सजा का प्रावधान (व्यक्तिगत सुरक्षा)

आईपीसी धारा 336 क्या है आज हम आपको बताएंगे कि दूसरों के जीवन या व्यक्तिगत सुरक्षा को ख़तरा पहुँचाने वाला कार्य कारित करना अपराध माना जाता है और यह भारतीय दंड संहिता कि जिस धारा के अंतर्गत आता है उसी के चर्चा इस पेज पर आपको मिलने जा रही है | यहाँ हम आपको भारतीय … Read more

आईपीसी धारा 467 क्या है | IPC Section 467 in Hindi – विवरण, सजा का प्रावधान | मूल्यवान प्रतिभूति, वसीयत की कूटरचना

आईपीसी धारा 467 क्या है आज के इस आर्टिकल में यहाँ इस पेज पर मित्रों आपके लिए हम लेकर आये हैं, भारतीय दंड संहिता की धारा 467 के बारे में जानकारी जिसमे बताया गया है कि किसी के द्वारा यदि मूल्यवान प्रतिभूति वसीयत या किसी मूल्यवान प्रतिभूति को बनाने या हस्तांतरण करने का प्राधिकार, या … Read more

आईपीसी धारा 499 क्या है | IPC Section 499 in Hindi – विवरण, सजा का प्रावधान (मानहानि)

आईपीसी (IPC) धारा 499 क्या है आपने अक्सर खबरों में या इंटरनेट पर “मानहानि” शब्द के बारे में सुना और देखा होगा | इसमें किसी व्यक्ति के द्वारा किसी अन्य आदमी के अगेंस्ट मानहानि का इल्जाम लगाया जाता है, तब इसको यहाँ हम भारतीय दंड संहिता में इस “मानहानि” के अपराध को IPC की धारा … Read more

जीरो एफआईआर (Zero FIR) क्या है | FIR और ZERO FIR में क्या अंतर है

जीरो एफआईआर (Zero FIR) क्या होता है भारत लोकतंत्र के साथ – साथ एक संवैधानिक देश है, जो संविधान द्वारा बनाये गए नियमों के अनुसार चलता है | देश की आतंरिक व्यवस्था चलाने के लिए और देश में नागरिकों को सुरक्षा देने के लिए पुलिस की व्यवस्था की गई है | यदि कही दो पक्षों … Read more

वादी (Petitioner), प्रतिवादी (Respondent) क्या होता है | वादी – प्रतिवादी में क्या अंतर है

वादी (Petitioner), प्रतिवादी (Respondent) क्या है भारत में सभी कार्य संविधान के अनुसार होते है, भारत की जनसँख्या 130 करोड़ से भी ज्यादा है | जिसके कारण आय दिन विवाद होते है | देश के सभी विवादों के निपटारे हेतु हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट रखा गया है | इसके अलावा देश के सभी जिलों … Read more

परिवाद पत्र क्या है | परिवाद कैसे दाखिल करे – Parivad Explained in Hindi

परिवाद (Parivad) पत्र क्या है भारत एक लोकतान्त्रिक देश है, जो संविधान द्वारा बनाये गए नियमों के आधार पर चलता है | संविधान में सभी अपराधों और सभी नियमों के लिए अलग – अलग धाराएँ दी गई है | इसी में यहाँ पर आपको भारतीय संविधान की दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 2 डी … Read more

शपथ पत्र (Affidavit) क्या होता है | शपथ पत्र कैसे बनवाये – फ़ीस और प्रारूप

शपथ पत्र (Affidavit) क्या होता है शपथ पत्र (Affidavit) एक लिखित ऐसा दस्तावेज होता है जो की किसी न्यायालय या मजिस्ट्रेट द्वारा नियुक्त शपथपत्र अधिकारी के समक्ष, शपथकर्ता का अपनी सहमति यानि की बिना किसी दबाव के शपथपत्र पर प्रतिज्ञा (लिखित कथन) होता है। शपथपत्र पत्र (Affidavit) शपथकर्ता अपनी निजी जानकारी और सत्यता के आधार … Read more

आईपीसी धारा 363 क्या है | IPC Section 363 in Hindi – विवरण, सजा का प्रावधान (व्यपहरण)

आईपीसी (IPC) धारा 363 क्या है भारतीय दंड संहिता में दोस्तों हमने आपको बहुत ही महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में बताया है | आज हम उसी क्रम में आपके लिए एक और महत्वपूर्ण धारा के बारे में जानकारी लेकर इस पेज पर आये हैं | आज हम बात करेंगे व्यपहरण के बारे में  जिसको इंग्लिश … Read more