क्लैट (CLAT) क्या है | क्लैट का फुल फॉर्म | CLAT की तैयारी कैसे करे


आज के कम्पटीशन युग में किसी भी क्षेत्र में बेहतर करियर बनाना काफी कठिन है, क्योंकि लगभग सभी क्षेत्रों में प्रतिस्पर्धा लगातार बढ़ती जा रही है | अधिकांश छात्र अपनें करियर को लेकर काफी गंभीर होते है, और वह पहले से ही निर्धारित कर लेते है, कि उन्हें किस क्षेत्र में अपना करियर बनाना है |

वर्तमान समय में छात्रों के समक्ष मेडिकल और इंजीनियरिंग के अलावा कई ऐसे विकल्प मौजूद है, जिसमें वह अपना बेहतर करियर बना सकते है | हमारे देश में कई ऐसे छात्र है, जिनकी रूचि कानूनी दावपेच और लॉ में होती है | यदि आप भी लॉ के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है, तो इसके लिए आपको क्लैट एग्जाम में सफलता प्राप्त करनी होगी। क्लैट (CLAT) क्या है, क्लैट का फुल फॉर्म, CLAT की तैयारी करनें के बारें में आपको यहाँ पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

वकील (अधिवक्ता) कैसे बने



क्लैट फुल फॉर्म (CLAT Full Form)

CLAT (क्लैट) का फुल फॉर्म “Common Law Admission Test” (कामन लॉ एडमीशन टेस्ट) होता है, जबकि हिंदी भाषा में इसे सामान्य विधि प्रवेश परीक्षा कहते है| लॉ के क्षेत्र में करियर बनानें के लिए छात्रों को क्लैट एग्जाम क्वालीफाई करना होता है | क्लैट एग्जाम एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है |

क्लैट फुल फॉर्म इन हिंदी‘सामान्य विधि प्रवेश परीक्षा’
CLAT Full Form in English‘Common Law Admission Test’

सरकारी वकील क्या होता है

क्लैट क्या है (What is CLAT)

देश के प्रतिष्ठित लॉ कालेजो में लॉ कोर्स में एडमीशन के लिए छात्रों को क्लैट एग्जाम क्रैक करना होता है | लॉ कोर्सेस में प्रवेश प्राप्त करनें के लिए क्लैट एग्जाम की शुरुआत वर्ष 2018 में हुई थी| क्लैट एग्जाम एक नेशनल लेवल की प्रवेश परीक्षा है, प्रतिवर्ष इस परीक्षा का आयोजन कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज (Consortium of National Law Universities- CLNU) द्वारा किया जाता है |

वर्ष 2018 तक नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी द्वारा क्लैट एग्जाम रोटेशनल के आधार पर कंडक्ट कराया जता था, परन्तु वर्ष 2020 से यूनिवर्सिटी द्वारा एक परमानेंट बॉडी बना दिया, जिसका नाम The Consortium of NLUs रखा गया। आपको बता दें, कि इसका हेड ऑफिस बंगलुरु में स्थित है।   

वर्तमान समय में यदि आप लॉ के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है, तो इसके लिए आपको सबसे पहले राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होनें वाली क्लैट परीक्षा में सफलता प्राप्त करना होगा| इस एग्जाम को क्रैक करनें के लिए आपको एक बेहतर रणनीति के तहत तयारी करनी होगी |

शपथ पत्र (Affidavit) क्या होता है

क्लैट परीक्षा हेतु शैक्षिक योग्यता (Educational Qualification)

क्लैट एग्जाम में शामिल होनें के लिए छात्र को किसी भी स्ट्रीम से बारहवीं (12th) की परीक्षा 45 प्रतिशत अंकों से उत्तीर्ण होना आवश्यक है | आरक्षित वर्ग के अंतर्गत आने वाले छात्रों के लिए 12th में 40 प्रतिशत अंक होनें चाहिए |

क्लैट परीक्षा हेतु आयु (Age for CLAT Exam)

क्लैट एग्जाम में शामिल होनें के लिए पहले ऐज लिमिट निर्धारित की गयी थी, परन्तु वर्ष 2020 से इस परीक्षा के लिए आयु योग्यता समाप्त कर दी गयी है | इसका अर्थ यह है, कि अब किसी भी आयु का व्यक्ति इस परीक्षा में शामिल हो सकता है |

जमानत क्या होता है

क्लैट एग्जाम्स पैटर्न यूजी (CLAT Exam Syllabus UG)

लॉ कोर्सेस में प्रवेश हेतु क्लैट एग्जाम का आयोजन ऑनलाइन मोड़ में किया जाता है | क्लैट परीक्षा में कुल 150 बहु वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते है, और प्रत्येक प्रश्न के लिए 1 अंक निर्धारित होता है | इस एग्जाम के लिए छात्रों को 2 घंटे का समय दिया जाता है | इस परीक्षा में इंग्लि लैंग्वेज के 28 से 32 प्रश्न जनरल नालेज और करंट अफेयर्स सेक्शन से 35 से 39 प्रश्न, लॉजिकल रीजनिंग सेक्शन से 28 से 32 प्रश्न और लीगल रीजनिंग सेक्शन से 35-39 प्रश्न जबकि क्वांटिटेटिव टेक्निक्स से 13-17 प्रश्न पूछे जाते है| आपको बता दें, कि इस परीक्षा में प्रश्न का गलत उत्तर देने पर निगेटिव मार्किंग की जाती है| प्रत्येक गलत प्रश्न के लिए 1/4 अंक काटा जाता है।

विषय एमसीक्यू की सं०अधिकतम अंक
अंग्रेजी भाषा28-32 28-32 
सामान्य ज्ञान सहित करेंट अफेयर्स35-39 35-39 
लॉजिकल रीजनिंग28-32 28-32
लीगल रीजनिंग35-39 35-39
क्वांटिटेटिव टेक्निक्स (कक्षा 10 तक प्रारंभिक गणित)13-17 13-17 
कुल 150 150

भारतीय कानून की जानकारी

शैक्षिक योग्यता (Educational Qualification)

क्लैट (CLAT) की ऑनलाइन परीक्षा इंटीग्रेटेड पीजी लॉ कोर्सेज (LL.M) के लिए करवायी जाती है | यदि आप पोस्ट ग्रेजुएशन करने के लिए परीक्षा में शामिल हो रहे है, तो आपको इसके लिए किसी मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान से लॉ में स्नातक (Law Graduate) होना आवश्यक है।

क्लैट एग्जाम सिलेबस पीजी (CLAT Exam Syllabus PG)

पोस्ट ग्रेजुएट लेवल (Post Graduation Level) के लिए आपके स्नातक अर्थात ग्रेजुएशन के सब्जेक्ट्स के साथ फैमिली लॉ (Family Law), एनवायरमेंटल लॉ (Environmental Law), प्रापर्टी लॉ (Property Law) और लेबर लॉ (Labor Law) जैसे कानूनी विषयों की तैयारी करनी होती है|

पीजी स्तर पर आयोजित क्लैट एग्जाम में कुल 100 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जायेंगे, इसके साथ ही आपको 2 निबंध भी लिखने होते है| प्रत्येक प्रश्न के लिए 1 अंक निर्धारित होता है| इसके साथ ही इस परीक्षा में नकारात्मक अंकन (Negative Marking) की जाती है और प्रत्येक गलत प्रश्न के लिए 0.25 अंक काटे जाते है | 

संविधान क्या होता है

परीक्षा में पूछे जानें वाले प्रश्न और अंको का विवरण

विषयप्रश्नों की संख्याअधिख्तम प्रश्न
संविधानिक कानून (Constitutional Law)4040
न्याय शास्र (Jurisprudence)6060
निबंध (Essays)250
पूर्णांक102150

जज (न्यायाधीश) कैसे बने

क्लैट परीक्षा की तैयारी कैसे करे (CLAT Exam Preparation)

क्लैट एग्जाम नेशनल लेवल पर आयोजित होनें वाली काफी कठिन परीक्षा है, जिसमें प्रतिवर्ष लाखों छात्र शमिल होते है, परन्तु इस परीक्षा में सफलता उन्ही छात्रों को मिलती है, जो एक निर्धारित रणनीति बनाकर परिश्रम करते है | अक्सर देखनें को मिलता है, कि काफी ब्रिलियंट (Brilliant) छात्र भी इस एग्जाम में असफल हो जाते है| इसका मुख्य कारण यह है, कि उन्हें उचित मार्गदर्शन नहीं मिल पाता है | हम आपको क्लैट परीक्षा की तैयारी के लिए कुछ ऐसे टिप्स बता रहे है, जिसकी सहायता से आप आसानी से इस परीक्षा को क्रैक कर सकते है | यह टिप्स इस प्रकार है-

  • किसी भी परीक्षा में सफलता प्राप्त करनें के लिए सबसे पहले आपको एग्जाम पैटर्न और सिलेबस से सम्बंधित पूरी जानकरी होनी चाहिए | जिससे आप परीक्षा की तयारी बेहतर ढंग से कर पाएंगे|
  • परीक्षा में पूछे जानें वाले विषयों के अनुसार आपको प्रत्येक विषय के लिए समय का निर्धारण करे, ताकि आप सभी विषयों की पढ़ाई प्रतिदिन अलग-अलग कर सके |
  • यदि आपको कोई विषय काफी कठिन लग रहा है, तो आपको इसके लिए अतिरिक्त समय देना होगा अर्थात उस विषय के लिए अधिक समय निर्धारित करे |
  • क्लैट परीक्षा में सफलता प्राप्त करनें के लिए आपको समय सारणी (Time Management) भी करना होगा, जिससे आप अधिक से अधिक प्रश्नों को हल करनें में सरलता होगी|
  • परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए सदैव अच्छे लेखकों की किताबो का चयन करे, कई बार छात्र गलत किताबों का चुनाव कर लेते है, जिसके कारण उन्हें परीक्षा में असफलता का सामना करना पड़ता है |
  • सिलेबस पूरा होनें के पश्चात आपको पिछले वर्षो के प्रश्न पत्रों को हल करनें का प्रयास करे| इसके साथ ही इस बात का अनुमान लगाये कि आपको प्रश्नों को सॉल्व करनें में कितना समय लगा| इससे आपके प्रश्नों को हल करनें की स्पीड भी बढ़ जाएगी |
  • क्लैट एग्जाम क्रैक करनें के लिए आपको प्रतिदिन मॉक टेस्ट को हल करना शुरू करे |
  • यदि आपको किसी सब्जेक्ट को समझनें में समस्या आ रही है, तो आप अपनी सुविधा के अनुसार किसी अच्छे कोचिंग इंस्टिट्यूट को ज्वाइन कर सकते है |   

परिवाद पत्र क्या है

यदि आप अपने सवाल का उत्तर प्राइवेट चाहते है तो आप अपना सवाल कांटेक्ट फॉर्म के माध्यम से पूछें |

Leave a Comment