सरकारी वकील क्या होता है | APO कैसे बने | वेतन | सरकारी वकील के कार्य की जानकारी

सरकारी वकील किसे कहते है

भारत एक लोकतांत्रिक देश है, जो संविधान के मुताबिक उसके नियमों से चलता है | देश के प्रत्येक राज्य में हाई कोर्ट यानि कि उच्च न्यायालय होता है | इसके अलावा पूरे देश के लिए एक सुप्रीम कोर्ट भी होता है, जब किसी को लगता है कि उसे हाई कोर्ट से न्याय नहीं मिला है तब वह अपना मामला सुप्रीम कोर्ट में ले जा सकता है |

केंद्र सरकार या फिर राज्य सरकार द्वारा न्यायालय में अपील या न्यायिक कार्यवाइ करने के लिए प्रोवीजन ऑफ़ सेक्शन 24 की सीआरपीसी (CRPC) 1972 के अंतर्गत किसी पब्लिक प्रोसिक्यूटर यानि कि वकील का चयन करना होता है वह वकील सरकारी या प्राइवेट कोई भी हो सकता है, इसलिए सरकार द्वारा प्रत्येक जिले में राज्य सरकार एक सरकारी पब्लिक प्रोसिक्यूटर की नियुक्ति करता है, देश की राज्य सरकार न्यायिक प्रक्रिया को सुद्रढ़ बनाने के लिए एक से अधिक सरकारी वकील या पब्लिक प्रोसिक्यूटर की नियुक्ति कर सकता है | यदि आप भी सरकारी वकील क्या होता है, APO कैसे बने, वेतन, सरकारी वकील के कार्यों के विषय में जानना चाहते है तो यहाँ पर इसकी जानकारी दी जा रही है |

वकील (अधिवक्ता) कैसे बने

APO कैसे बने

एपीओ का फुल फॉर्म “Assistant Prosecution Officer” है, इसका उच्चारण “असिस्टेंट प्रॉसिक्यूशन ऑफिसर” होता है | हिंदी में इसका अर्थ “सहायक अभियोजन अधिकारी” होता है | इसके लिए परीक्षा का आयोजन राज्य सरकार द्वारा किया जाता है | सरकारी वकील बनने के लिए आपको विधि की परीक्षा यानि कि LAW में स्नातक पास करना होता है | यदि आप Law से स्नातक पास हो जाते है, तो आप इस तरह से सरकारी वकील बन सकते है-

  1. यदि आपके अनुभव होता है तो आप इस आधार पर अच्छा वकील बन सकते है |
  2. या फिर दूसरा तरीका एपीओ की परीक्षा उत्तीर्ण करने पश्चात् आप सरकारी वकील का दर्जा प्राप्त कर सकते है |

अनुभव के आधार पर एपीओ कैसे बनते है

  1. इसके लिए न्यूनतम आयु 35 वर्ष तथा न्यूनतम अनुभव 7 वर्ष का होने पर APO का पद प्राप्त होगा |
  2. आप प्रदेश लेवल पर या जिला लेवल पर बहुचर्चित और प्रसिद्ध वकील होने पर सरकारी वकील बन पाएंगे |
  3. इसके लिए यदि आपका राजनीतिक संपर्क अच्छा है तो सरकारी वकील का पद प्राप्त करने में ज्यादा आसानी होगी|
  4. यदि आप सरकार द्वारा चयनित किये जाते है तो सरकार अपनी इच्छानुसार सरकारी वकील के पद रख सकती है, सरकार जब चाहे चयनित सरकारी वकील को पद से हटाने का अधिकार रखती है |

भारतीय कानून की जानकारी

एपीओ (APO) परीक्षा पास करने पर

  1. सभी राज्यों में प्रति वर्ष सरकारी वकीलों की नियुक्ति हेतु एपीओ एग्जाम आयोजित किया जाता है |
  2. इसमें सम्मिलित अभ्यर्थियों को विधिक की परीक्षा में स्नातक पास होना जरूरी होगा |
  3. यदि आप APO की परीक्षा में सफल होते है, तो आप सरकारी वकील के रूप में चयनित किये जाते है |
  4. यदि आपका चयन इस प्रकार से होता है तो राज्य सरकार को पद मुक्त करने का अधिकार नहीं होता है |

एपीओ (APO) की परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी

  • प्रारंभिक परीक्षा (Pre Exam)
  • मुख्य परीक्षा (Main Exam – Written Test)
  • पर्सनालिटी टेस्ट (साक्षात्कार – Interview)

संविधान क्या होता है

परीक्षा का प्रारूप (Exam Pattern)

परीक्षापरीक्षा का प्रकारपेपरअंक
प्रारंभिक परीक्षाप्रश्न वैकल्पिक प्रकार1 पेपर150 अंक
मुख्य परीक्षालिखित परीक्षा4 पेपर400 अंक
पर्सनालिटी टेस्टसाक्षात्कार50 अंक

एपीओ (APO) वेतन

APO अर्थात सरकारी वकील का वेतन सातवें वेतन आयोग के मुताबिक 47600 से लेकर 1,51,100/- रुपये प्रतिमाह तक प्रदान की जाती है | इसके साथ सरकार द्वारा अन्य सुविधाएँ भी प्रदान की जाती है |

सरकारी वकील के कार्य

  • सरकारी वकील को राज्य सरकार के मुकदमों की पैरवी का जिम्मा सौंपा जाता है |
  • एक सरकारी वकील न्यायालय में सरकार के आदेशानुसार मुकदमों की कार्यवाही करने की जिम्मेदारी लेता  है |
  • यदि कोर्ट में पीड़ित व्यक्ति वकील का खर्च नहीं उठा पाता है, तो कोर्ट द्वारा पीड़ित को सरकारी वकील को मुकदमे की पैरवी की जिम्मेदारी सौंपी जाती है, इसके लिए पीड़ित व्यक्ति से किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नहीं लिया जाता है |

शपथ पत्र (Affidavit) क्या होता है 

सरकारी वकील न्यायालय के कार्यों को निपटाने में सहायता करता है |

  • एक सरकारी वकील राज्य के जुडिशियरी या न्याय प्रक्रिया का महत्वपूर्ण अंग होता हैं, जो न्यायालय में मुकदमा, अपील तथा कानून से जुड़े अन्य प्रक्रियाओं में प्रभारी का कार्य करते हैं |
  • सरकारी वकील मामले से जुड़े सभी आवश्यक पहलुओं को सामने रखता है और अदालत के कार्यों में सहायता प्रदान करता है |

यहाँ आपको एपीओ (APO) अर्थात सरकारी वकील के विषय में जानकारी प्रदान की गई | यदि आप इससे संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी पाना चाहते है तो कमेंट बॉक्स में अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही उत्तर दिया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए nocriminals.org पोर्टल पर विजिट करते रहे |

जमानत क्या होता है

Leave a Comment