सीआरपीसी की धारा 179 क्या है | Section 179 CRPC in Hindi


सीआरपीसी की धारा 179 क्या है

दंड प्रक्रिया सहिता में अपराध वहां विचारणीय होगा जहां कार्य किया गया या जहां परिणाम निकलाइसका प्रावधान सीआरपीसी (CrPC) की धारा 179 में  किया गया है | यहाँ हम आपको ये बताने का प्रयास करेंगे कि दंड प्रक्रिया सहिता (CrPC) की धारा 179 के लिए किस तरह अप्लाई होगी | दंड प्रक्रिया सहिता यानि कि CrPC की धारा 179 क्या है ? इसके सभी पहलुओं के बारे में विस्तार से यहाँ समझने का प्रयास करेंगे | आशा है हमारी टीम द्वारा किया गया प्रयास आपको पसंद आ रहा होगा |

(CrPC Section 179) Dand Prakriya Sanhita Dhara 179 (अपराध वहां विचारणीय होगा जहां कार्य किया गया या जहां परिणाम निकला)

इस पेज पर दंड प्रक्रिया सहिता की धारा 179 में “अपराध वहां विचारणीय होगा जहां कार्य किया गया या जहां परिणाम निकलाइसके बारे में क्या प्रावधान बताये गए हैं ? इनके बारे में पूर्ण रूप से इस धारा में चर्चा की गई है | साथ ही दंड प्रक्रिया संहिता (CrPC) की धारा 179 कब नहीं लागू होगी ये भी बताया गया है ? इसको भी यहाँ जानेंगे, साथ ही इस पोर्टल www.nocriminals.org पर दंड प्रक्रिया संहिता (CrPC) की अन्य महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में विस्तार से बताया गया है आप उन आर्टिकल के माध्यम से अन्य धाराओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी  ले सकते हैं |

सीआरपीसी की धारा 174 क्या है



CrPC (दंड प्रक्रिया संहिता की धारा ) की धारा 179 के अनुसार :-

अपराध वहां विचारणीय होगा जहां कार्य किया गया या जहां परिणाम निकला—

जब कोई कार्य किसी की गई बात के और किसी निकले हुए परिणाम के कारण अपराध है तब ऐसे अपराध की जांच या विचारण ऐसे न्यायालय द्वारा किया जा सकता है, जिसकी स्थानीय अधिकारिता के अंदर ऐसी बात की गई या ऐसा परिणाम निकला।

According to Section. 179 –  “Offence Triable where act is done or Consequence Ensues”–

When an act is an offence by reason of anything which has been done and of a consequence which has ensued, the offence may be inquired into or tried by a Court within whose local jurisdiction such thing has been done or such consequence has ensued.

सीआरपीसी की धारा 164 क्या है

आपको आज  दंड प्रक्रिया संहिता  की धारा 179 “अपराध वहां विचारणीय होगा जहां कार्य किया गया या जहां परिणाम निकलाइसके  बारे में जानकारी हो गई होगी | कैसे इस धारा को लागू किया जायेगा ?  इन सब के बारे में विस्तार से हमने उल्लेख किया है, यदि फिर भी इस धारा से सम्बन्धित या अन्य धाराओं से सम्बंधित किसी भी प्रकार की कुछ भी शंका आपके मन में हो या अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो आप  कमेंट बॉक्स के माध्यम से अपने प्रश्न और सुझाव हमें भेज सकते है |

सीआरपीसी की धारा 161 क्या है

यदि आप अपने सवाल का उत्तर प्राइवेट चाहते है तो आप अपना सवाल कांटेक्ट फॉर्म के माध्यम से पूछें |

Leave a Comment