आईपीसी धारा 26 क्या है | IPC Section 26 in Hindi – विवरण


आईपीसी धारा 26 क्या है

आज हम आपके लिए इस पेज पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 26 की जानकारी लेकर आये है | जिसमे विश्वास करने का कारण के बारे में बताया गया है, यहाँ हम आपको बताएँगे  कि भारतीय दंड सहिता (IPC) की धारा 26 किस प्रकार से परिभाषित की गई है और इसका क्या अर्थ है ? भारतीय दंड संहिता यानि कि आईपीसी (IPC) की धारा 26 क्या है, इसके बारे में आप यहाँ जानेंगे |

इस पोर्टल के माध्यम से यहाँ धारा 26 क्या बताती है ? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी | साथ ही इस पोर्टल www.nocriminals.org पर अन्य भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में विस्तार से बताया गया है आप उन आर्टिकल के माध्यम से अन्य धाराओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

आईपीसी धारा 34 क्या है



IPC (भारतीय दंड संहिता की धारा ) की धारा 26 के अनुसार :-

विश्वास करने का कारण –

“कोई व्यक्ति किसी बात के विश्वास करने का कारण रखता है, यह तब कहा जाता है जब वह उस बात के विश्वास करने का पर्याप्त वजह रखता है, अन्यथा नहीं।“

According to Section 26 – “Reason to believe”.–

“A person is said to have “reason to believe” a thing, if he has sufficient cause to believe that thing but not otherwise.”

आईपीसी धारा 70 क्या है

मित्रों उपरोक्त वर्णन से आपको आज भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 26 के बारे में जानकारी हो गई होगी | कैसे इस धारा को लागू किया जायेगा ?  इन सब के बारे में विस्तार से हमने उल्लेख किया है, यदि फिर भी इस धारा से सम्बन्धित या अन्य धाराओं से सम्बंधित किसी भी प्रकार की कुछ भी शंका आपके मन में हो या अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो आप  हमें  कमेंट  बॉक्स  के  माध्यम  से अपने प्रश्न और सुझाव हमें भेज सकते है | इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें |

आईपीसी धारा 100 क्या है

आईपीसी धारा 1 क्या है
आईपीसी धारा 2 क्या है 
आईपीसी धारा 3 क्या है
आईपीसी धारा 4 क्या है
आईपीसी धारा 5 क्या है
आईपीसी धारा 6 क्या है
आईपीसी धारा 7 क्या है
आईपीसी धारा 8 क्या है
आईपीसी धारा 9 क्या है
आईपीसी धारा 10 क्या है
आईपीसी धारा 11 क्या है
आईपीसी धारा 12 क्या है
आईपीसी धारा 13 क्या है
आईपीसी धारा 14 क्या है
आईपीसी धारा 15 क्या है

आईपीसी धारा 107 क्या है

यदि आप अपने सवाल का उत्तर प्राइवेट चाहते है तो आप अपना सवाल कांटेक्ट फॉर्म के माध्यम से पूछें |

Leave a Comment