आईपीसी धारा 124 क्या है | IPC Section 124 in Hindi – विवरण सजा का प्रावधान

आईपीसी धारा 124 क्या है

आज हम आपके लिए इस पेज पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 124 की जानकारी लेकर आये है | यहाँ हम आपको बताएँगे  कि भारतीय दंड सहिता (IPC) की धारा 124 किस प्रकार से परिभाषित की गई है और इसका क्या अर्थ है ? भारतीय दंड संहिता यानि कि आईपीसी (IPC)  की धारा 124 क्या है,  इसके बारे में आप यहाँ जानेंगे |

इस पोर्टल के माध्यम से यहाँ धारा 124 क्या बताती है ? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी | साथ ही इस पोर्टल www.nocriminals.org पर अन्य भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में विस्तार से बताया गया है आप उन आर्टिकल के माध्यम से अन्य धाराओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

आईपीसी धारा 100 क्या है

IPC (भारतीय दंड संहिता की धारा) की धारा 124 के अनुसार :-

किसी विधिपूर्ण शक्ति का प्रयोग करने के लिए विवश करने या उसका प्रयोग अवरोधित करने के आशय से राष्ट्रपति, राज्यपाल आदि पर हमला करना

“जो कोई भारत के राष्ट्रपति या किसी राज्य के राज्यपाल  को ऐसे ‘राष्ट्रपति या राज्यपाल की विधिपूर्ण शक्तियों में से किसी शक्ति का किसी प्रकार प्रयोग करने के लिए या प्रयोग करने से विरत रहने के लिए उत्प्रेरित करने या विवश करने के आशय से,

ऐसे राष्ट्रपति या राज्यपाल  पर हमला करेगा या उसका सदोष अवरोध करेगा, या सदोष अवरोध करने का प्रयत्न करेगा या उसे आपराधिक बल द्वारा या आपराधिक बल के प्रदर्शन द्वारा आतंकित करेगा या ऐसे आतंकित करने का प्रयत्न करेगा.

वह दोनों में से किसी भांति के कारावास से, जिसकी अवधि सात वर्ष तक की हो सकेगी, दंडित किया जाएगा और जुर्माने से भी, दंडनीय होगा ।“

Section 124 –  “ Assaulting President, Governor, etc., with intent to compel or restrain the exercise of any lawful power ”–

Whoever, with the intention of including or compelling the 93 [President] of India, or the 94 [Governor 95 [***]] of any 96 [State], 97 [***] 98 [***] 99 [***] to exercise or refrain from exercising in any manner any of the lawful powers of such 100 [President] or 94 [Governor 95 [***]],

assault or wrongfully restrains, or attempts wrongfully to restrain, or overawes, by means of criminal force or the show of criminal force, or attempts so to overawe, such 100 [President or 94 [Governor 95 [***]],

shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to seven years, and shall also be liable to fine.

आईपीसी धारा 107 क्या है

लागू अपराध

किसी विधिपूर्ण शक्ति का प्रयोग करने के लिए विवश करने या उसका प्रयोग अवरोधित करने के आशय से राष्ट्रपति, राज्यपाल आदि पर हमला करना

सजा – 7 वर्ष कारावास + आर्थिक दण्ड।

यह एक गैर-जमानती, संज्ञेय अपराध है और सत्र न्यायालय के न्यायधीश द्वारा विचारणीय है।

आईपीसी धारा 109 क्या है

आईपीसी की धारा 124 में सजा (Punishment) क्या होगी

यहाँ भारतीय दंड संहिता में धारा 124 किये गए अपराध के लिए सजा को निर्धारित किया गया हैं | जो इस प्रकार है – किसी विधिपूर्ण शक्ति का प्रयोग करने के लिए विवश करने या उसका प्रयोग अवरोधित करने के आशय से राष्ट्रपति, राज्यपाल आदि पर हमला करना, उसको 7 वर्ष कारावास +आर्थिक दण्ड दोनों दण्ड से दण्डित किया जा सकता है |

आईपीसी धारा 114 क्या है

आईपीसी (IPC) की धारा 124 में  जमानत  (BAIL) का प्रावधान

भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 124 में जिस अपराध की सजा के बारे में बताया गया है उस अपराध को एक गैर -जमानती अपराध बताया गया है | यहाँ आपको मालूम होना चाहिए कि गैर – जमानतीय अपराध होने पर इसमें जमानत मिलने में मुश्किल आती है क्योंकी CrPC में यह गैर – जमानतीय अपराध बताया गया है ।

आईपीसी धारा 120 क्या है

मित्रों उपरोक्त वर्णन से आपको आज भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 124 के बारे में जानकारी हो गई होगी | कैसे इस धारा को लागू किया जायेगा ?  इन सब के बारे में विस्तार से हमने उल्लेख किया है, यदि फिर भी इस धारा से सम्बन्धित या अन्य धाराओं से सम्बंधित किसी भी प्रकार की कुछ भी शंका आपके मन में हो या अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो आप  हमें  कमेंट  बॉक्स  के  माध्यम  से अपने प्रश्न और सुझाव हमें भेज सकते है | इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें |

आईपीसी धारा 143 क्या है

अपराधसजासंज्ञेयजमानतविचारणीय
राष्ट्रपति, राज्यपाल, आदि को किसी भी वैध शक्ति के अभ्यास के लिए मजबूर करने या प्रतिबंधित करने के इरादे से हमला करना7 साल + जुर्माना संज्ञेयगैर जमानतीयसत्र न्यायालय द्वारा विचारणीय (ट्रायल किया जा सकता)

आईपीसी धारा 144 क्या है

Leave a Comment