पॉक्सो एक्ट धारा 31 क्या है | Pocso Act Section 31 in Hindi – विवरण

पॉक्सो एक्ट की धारा 31 क्या है

आज हम आपके लिए इस पेज पर पॉक्सो एक्ट (Pocso Act) की धारा 31 की जानकारी लेकर आये है | यहाँ हम आपको बताएँगे  कि पॉक्सो एक्ट (Pocso Act) की धारा 31 किस प्रकार से परिभाषित की गई है और इसका क्या अर्थ है ? पॉक्सो एक्ट की धारा 31 क्या है, इसके बारे में आप यहाँ जानेंगे |

विशेष न्यायालय के समक्ष कार्यवाहियों को दंड प्रक्रिया संहिता 1973 का लागु होना

इस पोर्टल के माध्यम से यहाँ धारा 31 क्या बताती है ? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी | साथ ही इस पोर्टल www.nocriminals.org पर अन्य पॉक्सो एक्ट (Pocso Act) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में विस्तार से बताया गया है आप उन आर्टिकल के माध्यम से अन्य धाराओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

पॉक्सो एक्ट धारा 21 क्या है
पॉक्सो एक्ट धारा 22 क्या है
पॉक्सो एक्ट धारा 23 क्या है
पॉक्सो एक्ट धारा 24 क्या है
पॉक्सो एक्ट धारा 25 क्या है
पॉक्सो एक्ट धारा 26 क्या है 
पॉक्सो एक्ट धारा 27 क्या है
पॉक्सो एक्ट धारा 28 क्या है
पॉक्सो एक्ट धारा 29 क्या है
पॉक्सो एक्ट धारा 30 क्या है

[Pocso Act Sec. 31 in Hindi]

पॉक्सो एक्ट धारा 30 क्या है

Pocso Act (पॉक्सो एक्ट) की धारा 31 के अनुसार :-

विशेष न्यायालय के समक्ष कार्यवाहियों को दंड प्रक्रिया संहिता 1973 का लागु होना

इस अधिनियम में अन्यथा उपबंधित के सिवाय दंड प्रक्रिया संहिता, 1973 के उपबंध (जमानत आर बंधपत्र विषयक उपबंधों सहित) किसी विशेष न्यायालय के समक्ष कार्यवाहियों को लागू होंगे और उक्त उपवधा के प्रयोजनों के लिए विशेष न्यायालय को सेशन न्यायालय समझा जाएगा तथा विशेष न्यायालय के समक्ष अभियोजन का संचालन करने वाले व्यक्ति को, लोक अभियोजक समझा जाएगा।

According to Pocso Act Section 31 –  “Application of Code of Criminal Procedure, 1973 to proceedings before a Special Court ”–

“Save as otherwise provided in this Act, the provisions of the Code of Criminal Procedure, 1973 (including the provisions as to bail and bonds) shall apply to the proceedings before a Special Court and for the purposes of the said provisions, the Special Court shall be deemed to be a Court of Sessions and the person conducting a prosecution before a Special Court, shall be deemed to be a Public Prosecutor. “

पॉक्सो एक्ट धारा 29 क्या है

मित्रों उपरोक्त वर्णन से आपको आज पॉक्सो एक्ट (Pocso Act) की धारा 31 के बारे में जानकारी हो गई होगी | कैसे  इस धारा  को  लागू  किया जायेगा ?  इन सब के बारे में विस्तार से हमने उल्लेख किया है, यदि फिर भी इस धारा से सम्बन्धित या अन्य धाराओं से सम्बंधित किसी भी प्रकार की कुछ भी शंका आपके मन में हो या अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो आप  हमें  कमेंट  बॉक्स  के  माध्यम  से  अपने प्रश्न और  सुझाव हमें भेज सकते है | इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें |

पॉक्सो एक्ट धारा 28 क्या है

Leave a Comment